Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश अब आयुर्वेदिक अस्‍पतालों में भी होगी सभी जांचेें

अब आयुर्वेदिक अस्‍पतालों में भी होगी सभी जांचेें

Bareilly: जमीनी विवाद में पहले हुई मारपीट फिर चलीं गोलियां, अब वीडियो हो गया वायरल

बरेली में मारपीट की घटना आम होती जा रही हैं। लेकिन कभी-कभी यह घटनाएं भयानक रूप भी ले लेती हैं। एक ऐसी घटना आज...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम के दौरान चीन को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बांगरमऊ की एक राइस मिल में सोमवार आयोजित कार्यक्रम में कहा चीन के विषय में बात की...

कंगना रनौत के ऑफिस में तोड़फोड़ को लेकर हाईकोर्ट ने बीएमसी की लगाई फटकार और कही ये बात

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की ऑफिस में तोड़फोड़ के लेकर सोमवार को बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) ने बीएमसी की फटकार लगाई...

Bhagat Singh jayanti: शहीद-ए-आजम की जयंती पर अमित शाह ने किया यह ट्वीट

शहीद-ए-आजम भगत सिंह (Shahid Bhagat Singh) भारत वासियों के दिल में बसते हैं। देश की आजादी के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा...

Unlock-5: आज जारी हो सकती हैं अनलॉक-5 की गाइडलाइंस, मिल सकती हैं ये छूट

कोरोना वायरस महामारी (coronavirus pandemic) को कई महीने बीत चुके हैं। लेकिन अभी तक इस वायरस की वैक्सीन नहीं बन पाई है। ऐसे में...

आयुर्वेद (Ayurveda) से दूरियां बना रहे लोगों के लिए सरकार अब विशेष सुविधाएं देने जा रही है। जिसके चलते प्रदेश में मौजूद सभी राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालयों (State Ayurvedic Hospitals) में सभी तरह की जांच की सुविधाएं दी जाएंगी। सरकार ने सभी कॉलेजों से उपलब्ध संसाधनों (Resources) का ब्यौरा मांगा है। इससे संसाधनों के अभाव में पिछड़ रहे सभी कॉलेजों व अस्‍पतालों को एक नई उम्मीद मिली है। उम्मीद है यह सुविधाएं अगले बजट सत्र में शुरू हो जाएंगी।
ayurvedic college & hospitalराजकीय आयुर्वेदिक कॉलेजों में पैथोलॉजी और डायग्नोस्टिक (Diagnostic) की सुविधाएं बदतर हो चुकी हैं। अधिकतर कॉलेजों के पास जरूरी मशीनें तक नहीं है और जिनके पास हैं वे भी अच्छी स्थिति में नहीं है। जांच की पर्याप्त सुविधाएं ना होने के कारण आयुर्वेदिक अस्पतालों में मरीजों की संख्या घटती जा रही है। जो सरकारी अस्पतालों की तुलना में नगण्‍य है। इसे देखकर सरकार भी अब चिंतित है। इसीलिए सरकार पीपीपी मॉडल (PPP Model) पर जांच की सुविधाएं देने की तैयारी कर रही है।

इस प्रस्ताव में कॉलेजों में खून, अल्ट्रासाउंड, एक्स-रे, सीटी स्कैन समेत सभी जांचें प्राइवेट पब्लिक पार्टनरशिप मॉडल (Private Public Partnership Model)  पर की जाएंगी।

यह सुविधाएं भी मिलने की उम्मीद

Uttarakhand Government

माइक्रोबायोलॉजी लैब, इलेक्ट्रोलाइट्स टेस्ट, हिस्टोपैथोलॉजी, कलर डॉपलर, डिजिटल एक्स-रे, समेत अन्य कई पैथोलॉजी और डायग्नोस्टिक सुविधाएं भी शुरू की जाएंगी। जिससे अस्पताल में आने वाले मरीजों को काफी हद तक मदद मिलेगी।

Related News

Bareilly: जमीनी विवाद में पहले हुई मारपीट फिर चलीं गोलियां, अब वीडियो हो गया वायरल

बरेली में मारपीट की घटना आम होती जा रही हैं। लेकिन कभी-कभी यह घटनाएं भयानक रूप भी ले लेती हैं। एक ऐसी घटना आज...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम के दौरान चीन को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बांगरमऊ की एक राइस मिल में सोमवार आयोजित कार्यक्रम में कहा चीन के विषय में बात की...

कंगना रनौत के ऑफिस में तोड़फोड़ को लेकर हाईकोर्ट ने बीएमसी की लगाई फटकार और कही ये बात

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की ऑफिस में तोड़फोड़ के लेकर सोमवार को बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) ने बीएमसी की फटकार लगाई...

Bhagat Singh jayanti: शहीद-ए-आजम की जयंती पर अमित शाह ने किया यह ट्वीट

शहीद-ए-आजम भगत सिंह (Shahid Bhagat Singh) भारत वासियों के दिल में बसते हैं। देश की आजादी के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा...

Unlock-5: आज जारी हो सकती हैं अनलॉक-5 की गाइडलाइंस, मिल सकती हैं ये छूट

कोरोना वायरस महामारी (coronavirus pandemic) को कई महीने बीत चुके हैं। लेकिन अभी तक इस वायरस की वैक्सीन नहीं बन पाई है। ऐसे में...

हल्द्वानी-भाजपा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष बने राजेश अग्रवाल का हल्द्वानी से है ये खास रिश्ता, पढिय़े इस खास रिश्ते की पूरी कहानी

हल्द्वानी-उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में वित्त मंत्री रहे राजेश अग्रवाल को भाजपा का राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष बनाया गया है। राजेश अग्रवाल का अचानक...