Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश अजब-गजब: यूपी के वित्तमंत्री के जिले में बंदर भगाने के लिए इंसान...

अजब-गजब: यूपी के वित्तमंत्री के जिले में बंदर भगाने के लिए इंसान बने भालू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 सितंबर को मनाएंगे फिट इंडिया मूवमेंट की वर्षगांठ, विराट कोहली समेत इन लोगों से बात कर सकते हैं पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 24 सितंबर को 'फिट इंडिया मूवमेंट' (Fit India Movement) की पहली वर्षगांठ मनाएंगे। इसके लिए आयोजित राष्ट्रव्यापी ऑनलाइन...

Covid-19: झाड़ू लगाने से भी फैलता है कोरोना, AIIMS के डॉक्टर का दावा

देश में कोरोना वायरस तेजी से बढ़ता जा रहा है। बड़ी सी बीच चौंकाने वाली रिपोर्ट्स भी सामने आ रही हैं। ऐसे में एम्स...

COVID-19: देश में रिकवरी रेट हुआ 80 प्रतिशत से अधिक, एक दिन में ठीक हुए इतने मरीज

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से ठीक होने वाले लोगों की संख्या बड़े रहे हैं। पिछले एक दिन में 90 हजार से अधिक...

MJPRU: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी फिर शुरू कर रहा है एमफार्मा, इन विषयों की होगी पढ़ाई

बरेली: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी (Rohilkhand University) के फार्मेसी विभाग को एमफार्मा (M Pharma) पाठ्यक्रम दोबारा शुरू करने की अनुमति मिल गई है। इससे समय से...

COVID-19: देश में कोरोना के नए मामलों में आई कमी, 24 घंटे में सामने आए इतने नए केस

देश में पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के...

बंदरों को भगाने के लिए इंसान बन गए भालू- यूपी के वित्‍तमंत्री सुरेश खन्‍ना के जिले में बंदरों को भगाने के लिए इंसानों को भालू बनना पड़ रहा है।लंबे समय से बंदरों के आतंक से जूझ रहे लोगोंको शासन और प्रशासन से कोई मदद नहीं मिली तो उन्‍हें यह अनूठा तरीका सूझा। गांव के दो लोग भालु की ड्रेस पहनकर दो से तीन घंटे गांव में घूमते हैं। उन्‍हें देखकर बंदर भाग खड़े होते हैं।

मामला शाहजहांपुर जिले के जलालाबादक्षेत्र के सिकंदरपुर अफगान गांव का है। इस गांव में लंबे समय से बंदरों का आतंक है। गांव की आबादी 5000 है और यहाँ पर उत्पाती बंदरों की संख्या 10 हजार से ज्यादा। ग्रामीणों ने बंदरों से छुटकारा दिलाने के लिए वन विभाग से मांग की थी लेकिन वन विभाग ने बंदरों के पकड़ने के लिए प्रति बंदर 300 रूपये प्रति बंदर शुल्क की मांग की। फीस ज्यादा होने की वजह से ग्रामीणों ने हाथ खड़े कर दिए। लेकिन गांव वालों ने हिम्मत नहीं हारी और गाँव से बंदरों को भगाने के लिए एक नायाब तरीका खोज निकाला। गांव के लोगों ने चंदा करके भालू की खाल के जैसी ड्रेस मंगवाई और भालू का मुखौटा भी मंगवाया। इसके बाद गांव के ही दो युवकों को भालू की ड्रेस वाले कपड़े पहनाकर जैसे ही गांव में निकाला, वैसे ही बंदरों में भगदड़ मच गई। अपने बीच में भालू को देख कर बंदर गांव छोड़कर भाग रहे हैं।

Uttarakhand Government

इंसानी भालू देखकर बंदरों में मच जाती है भगदड़

भालू का रूप धारण कर दोनों युवक रोजाना 2 से 3 घंटे गांव में घूमकर बंदरों को भगाते हैं। इनकी शक्ल देखकर बंदर कभी पेड़ से कूद जाते हैं, तो कभी मकान की छत से कूद कर भाग जा रहे हैं. भालू बने सलीम कहते हैं कि बंदर उन्हें देखकर भाग रहे हैं। भालू की शक्ल देख कर बंदर तो गांव छोड़ कर धीरे-धीरे भाग रहे हैं, लेकिन इन भालू की खाल पहने युवकों के लिए मुसीबत भी बढ़ गई है क्योंकि इन्हें देख कर गांव के कुत्ते इन पर भौंक रहे हैं और काटने की कोशिश करते हैं। पूर्व प्रधान अशोक कहते हैं कि भालू की शक्ल वाले इन लोगों को देखकर बंदरों की संख्या कुछ कमी आई है। दरअसल, गांव बड़ा है जिसके चलते बंदर दूसरे किनारों को भाग जाते हैं या फिर गांव के बाहर छुप जाते हैं। बंदर इतने उत्पाती हैं कि लोगों को हर वक्त डंडा अपने साथ रखना पड़ता है। बंदर कभी उनके कपड़े फाड़ देते हैं तो कभी उनका खाना छीन कर भाग जाते हैं। नगर निगम के साथ वन विभाग के अफसरों ने भी भालू पकड़ने से हाथ खड़े कर दिए हैं।

 

Related News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 सितंबर को मनाएंगे फिट इंडिया मूवमेंट की वर्षगांठ, विराट कोहली समेत इन लोगों से बात कर सकते हैं पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 24 सितंबर को 'फिट इंडिया मूवमेंट' (Fit India Movement) की पहली वर्षगांठ मनाएंगे। इसके लिए आयोजित राष्ट्रव्यापी ऑनलाइन...

Covid-19: झाड़ू लगाने से भी फैलता है कोरोना, AIIMS के डॉक्टर का दावा

देश में कोरोना वायरस तेजी से बढ़ता जा रहा है। बड़ी सी बीच चौंकाने वाली रिपोर्ट्स भी सामने आ रही हैं। ऐसे में एम्स...

COVID-19: देश में रिकवरी रेट हुआ 80 प्रतिशत से अधिक, एक दिन में ठीक हुए इतने मरीज

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से ठीक होने वाले लोगों की संख्या बड़े रहे हैं। पिछले एक दिन में 90 हजार से अधिक...

MJPRU: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी फिर शुरू कर रहा है एमफार्मा, इन विषयों की होगी पढ़ाई

बरेली: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी (Rohilkhand University) के फार्मेसी विभाग को एमफार्मा (M Pharma) पाठ्यक्रम दोबारा शुरू करने की अनुमति मिल गई है। इससे समय से...

COVID-19: देश में कोरोना के नए मामलों में आई कमी, 24 घंटे में सामने आए इतने नए केस

देश में पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के...

यूपी: भू-माफियों से खाली कराई जाएंगी जमीनें, योगी सरकार ने बनाई यह कार्ययोजना

योगी सरकार (Yogi government) एक बार फिर से भू-माफियों के खिलाफ सख्त नजर आ रही है। सरकार ने भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की...