अगर स्‍कूल ले रहे हैं ज्यादा फीस तो इस नियम से मिलेगी फीस वापस

बरेली: प्रदेश भर में प्राइवेट स्कूलों (Private School) द्वारा अभिभावकों से मोटी फीस वसूलने की लूट नहीं रुक रही है। प्रदेश में स्ववित्त पोषित स्वतंत्र विधालय अधिनियम को लागू हुए दो साल गुजर गए हैं। इसके बावजूद अभिभावकों (Parents) को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। अभिभावकों ने इसके लिए कई बार प्रशासन व शासन से शिकायत भी की है। लेकिन स्कूलों में अभी अभिभावकों से मोटी फीस वसूली जा रही है।
private school feesपैरेंट्स फोरम (Parent’s Forum) के कन्वीनर एडवोकेट मुहम्मद खामिद जिलानी  ने 20 मार्च को प्रस्तावित जिला स्तरीय शुल्क निर्धारण समिति अधिनियम की बैठक में पालन कराने को ठोस रणनीति बनाने की मांग की है। मोहब्बत का खिलाड़ी ने अभिभावकों से वसूली जा चुकी ज्यादा फीस (Fees) स्कूलों से वापस कराने की भी मांग की है। उनका आरोप है कि कई स्कूल अभी लेट फीस के नाम पर हजारों रुपये की वसूली कर रहे हैं । इस पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए।
corona helpdesk

उत्तराखंड की बड़ी खबरें
A valid URL was not provided.